हमारे स्वास्थ्य में रसोई का विशेष योगदान होता है ,यदि रसोई में मौजूद मसालों और अन्य खाद्य पदार्थों का सही मात्रा और उचित उपयोग किया जाए तो ,बढ़िया स्वाद के साथ बढिया स्वास्थ्य भी प्राप्त किया जा सकता है

सोमवार, 12 मार्च 2012

जीरा

जीरा वैसे तो रसोई में काम आने वाला एक साधारण सा मसाला है ,
लेकिन इस के गुण जानकर आप इसे साधारण नहीं  कह  पायेगे 

 अपच ,पेट फूलना ,भोजन में अरुचि  में जीरे का सेवन लाभदायक होता है !

बवासीर में जीरे को मिश्री के साथ खाने से कुछ आराम मिलता है 

जीरा कृमिनाशक भी है !


 डायबिटीज- ब्लड में शुगर की मात्रा को नियंत्रित करने के लिए आघा छोटा चम्मच पिसा जीरा दिन में दो बार पानी के साथ पीएं। डायबिटीज रोगियों को यह काफी फायदा पहुंचाता है।

नींद न आने यानि अनिद्रा का  रोग  होने पर आधा चम्मच भुना जीरा एक पके केले के साथ खाए


 अनीमिया के शिकार व्यक्ति को २ चुटकी जीरा  सादे पानी के साथ देने से आराम मिलता है ,९० दिन इस का प्रयोग अवश्य करें

छाछ में भुना जीरा ,पीसी काली मिर्च और काला नमक बुरक कर रोजाना सेवन करने वाले इंसान को पेट का कोई रोग नहीं सताता ,पाचन शक्ति एकदम दुरुस्त रहती है ,पेट के कृमि भी मर जाते है


जीरे में कैंसर की रोकथाम करने की शक्ति है।

 पानी में जीरा डालकर उबालें,ठंडा करें। इस पानी से मुंह धोने से  चेहरा साफ और चमकदार होता है।जीरा डाल कर उबाले हुए पानी से  स्नान करने पर शरीर की बदबू और खुजली से भी छुटकारा मिलता है


महिलाओं के लिए विशेष
=================
प्रसूति के बाद जीरे के सेवन से गर्भाशय की शुद्धि होती  है 


यदि प्रसूति के बाद शिशु के लिए पर्याप्त दूध न बन रहा हो तो बहुत
कारगर उपाय है के २५० ग्राम जीरे और १०० ग्राम मिश्री को बारीक पीस लें आधा-२ चम्मच
सुबह शाम दूध के साथ पिए तो शिशु के लिए पर्याप्त मात्रा में दूध बनने  लगेगा


  महिलाओं में श्वेत प्रदर की शिकायत आम बात है ,इस के लिए २ चुटकी जीरा दिन में २ बार  खूब चबा कर खाए  ,  ७ दिन इस प्रयोग को जारी रखें
======================================================
कहिये बदल गयी ना,जीरे के बारे में आप की राय :) :)



















4 टिप्‍पणियां:

  1. जी राय तो बदलनी ही थी...
    ~~~~


    अच्छी जानकारियों का खजाना है आपके पास..
    शुक्रिया.

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत ही बेहतरीन और प्रशंसनीय प्रस्तुति....
    इंडिया दर्पण की ओर से शुभकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
  3. ji sahi kaha aapne ray ekdam badal gai hai achchhi jsnkari ke liye bahut bahut dhnyavad

    rachana

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत ही बेहतरीन रचना....

    मेरे ब्लॉग
    पर आपका हार्दिक स्वागत है।

    उत्तर देंहटाएं